रक्षा मंत्रालय ने शैक्षणिक वर्ष 2022-2023 से साझेदारी मोड में 21 नए सैनिक स्कूलों को मंजूरी दी

Approves 21 new Sainik Schools in partnership mode from academic year 2022-2023

26 MAR 2022

      रक्षा मंत्रालय ने गैर सरकारी संगठनों/निजी स्कूलों/राज्य सरकारों के साथ साझेदारी में 21 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना को मंजूरी दी है। ये स्कूल देश भर में 100 नए सैनिक स्कूल पार्टनरशिप मोड में स्थापित करने की सरकार की पहल के शुरुआती दौर में स्थापित किए जाएंगे। वे विद्यमान सैनिक स्कूलों से अलग होंगे।

      प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के 100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना के विजन का उद्देश्य छात्रों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना और उन्हें सशस्त्र बलों में शामिल होने सहित करियर के बेहतर अवसर उपलब्ध कराना है। यह निजी क्षेत्र को आज के युवाओं को कल के जिम्मेदार नागरिक बनाने के लिए परिष्कृत करने के द्वारा राष्ट्र निर्माण की दिशा में सरकार के साथ मिलकर काम करने का अवसर भी प्रदान करता है।

      21 अनुमोदित नए सैनिक स्कूलों की राज्य/संघ राज्य क्षेत्र-वार सूची संलग्न है और इसे www.sainikschool.ncog.gov.in पर भी देखा जा सकता है। इनमें से 17 स्कूल ब्राउनफील्ड संचालित स्कूल हैं और 4 ग्रीनफील्ड स्कूल हैं जो शीघ्र ही प्रचालनगत होने वाले हैं। जहां गैर सरकारी संगठनों/ट्रस्ट/सोसाइटियों के पास 12 अनुमोदित नए स्कूलों की हिस्सेदारी है, 6 निजी स्कूल और 3 राज्य सरकार के स्वामित्व वाले स्कूलों ने ऐसे अनुमोदित नए सैनिक स्कूलों की सूची में जगह पायी हैं। विद्यमान सैनिक स्कूलों के विपरीत, जो विशुद्ध रूप से आवासीय प्रकृति के हैं, 7 नए सैनिक स्कूल डे स्कूल हैं और ऐसे 14 नए अनुमोदित स्कूलों में आवासीय व्यवस्था है।

      ये नए सैनिक स्कूल, संबंधित शिक्षा बोर्डों से संबद्धता के अतिरिक्त, सैनिक स्कूल सोसायटी के तत्वावधान में कार्य करेंगे और सोसायटी द्वारा निर्धारित साझेदारी मोड में नए सैनिक स्कूलों के लिए नियमों और विनियमों का पालन करेंगे। अपने नियमित संबद्ध बोर्ड पाठ्यक्रम के अलावा, वे सैनिक स्कूल पैटर्न के छात्रों को अकादमिक प्लस पाठ्यक्रम की शिक्षा भी प्रदान करेंगे। इन स्कूलों के संचालन के तौर-तरीकों से संबंधित विवरण www.sainikschool.ncog.gov.in पर उपलब्ध हैं। इच्छुक छात्रों और अभिभावकों को वेब पोर्टल पर जाने और इस नए अवसर का लाभ उठाने के लिए आमंत्रित किया जाता है।

नामांकन प्रक्रिया:

  • इन स्कूलों में नए सैनिक स्कूल पैटर्न में प्रवेश कक्षा VI स्तर पर केवल निम्नलिखित तरीके से होगा।
  1. छठी कक्षा में कम से कम 40 प्रतिशत प्रवेश उन उम्मीदवारों का होगा जिन्होंने ई काउंसलिंग के माध्यम से एनटीए द्वारा आयोजित अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण की है।
  2. 60 प्रतिशत तक प्रवेश उसी स्कूल में नामांकित और नए सैनिक स्कूलों के इस वर्टिकल के तहत योग्यता परीक्षा के माध्यम से प्रवेश लेने के इच्छुक छात्रों का होगा, जिसके लिए अधिसूचना अलग से जारी की जाएगी।
  • अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा-2022 में उत्तीर्ण उम्मीदवारों को एनटीए के साथ उनकी पंजीकृत ईमेल आईडी पर नए अनुमोदित सैनिक स्कूल खोलने और इन स्कूलों में आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में सूचित किया जा रहा है। ऐसे योग्य उम्मीदवार जो अपनी पसंद के नए अनुमोदित स्कूल में प्रवेश लेने के इच्छुक हैं, उन्हें पूर्व परामर्श https:/sainikschool.ncog.gov.in पर पंजीकृत करना होगा। छात्रों को वेब पोर्टल पर लॉग इन करने और पंजीकरण करने के लिए अपने एआईएसएसईई-2022 आवेदन संख्या का उपयोग करना होगा जिसके बाद आवेदक छात्र ई-परामर्श के लिए प्राथमिकता के क्रम में 10 स्कूलों तक की पसंद का संकेत दे सकता है। पंजीकृत आवेदकों को प्रत्येक स्कूल के लिए मेरिट सूची के क्रम में एआईएसएसईई 2022 योग्य उम्मीदवारों द्वारा उस स्कूल में भरी जाने वाली सीटों की सीमा तक स्कूल आवंटित किए जाएंगे। नए सैनिक स्कूलों में शामिल होने के इच्छुक एआईएसएसईई 2022 के योग्य उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे ई-परामर्श पर सभी नवीनतम अपडेट के लिए नियमित रूप से वेब पोर्टल देखें।
  • नए सैनिक स्कूल में पहले से नामांकित और नए सैनिक स्कूलों के इस वर्टिकल के तहत पढ़ने के इच्छुक छात्रों को शीघ्र ही आयोजित होने वाली योग्यता परीक्षा के आधार पर प्रवेश प्रदान किया जाएगा। नए सैनिक स्कूलों को इसके बारे में अलग से अधिसूचित किया जा रहा है ताकि ऐसे इच्छुक उम्मीदवारों का विवरण, निर्धारित समय सीमा के भीतर, परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी को प्रदान किया जा सके, जिसका विवरण वेब पोर्टल https:/sainikschool.ncog पर भी उपलब्ध होगा।

      अनुमोदित नए सैनिक स्कूलों के लिए शैक्षणिक सत्र मई 2022 के पहले सप्ताह में आरंभ होने की संभावना है। सांकेतिक समय सीमा वेब पोर्टल https:/sainikschool.ncog.gov.in पर देखी जा सकती है।

      अगले दौर में विचार के लिए शेष नए सैनिक स्कूलों के लिए आवेदन आमंत्रित करने के लिए पोर्टल के अप्रैल 2022 के पहले सप्ताह में फिर से खोले जाने की संभावना है। इच्छुक स्कूल/ गैर सरकारी संगठन साझेदारी मोड में जो वेब पोर्टल पर उपलब्ध हैं, नए सैनिक स्कूलों के लिए क्यूआर, एमओए और नियमों और विनियमों का अध्ययन कर सकते हैं। स्कूल/गैर सरकारी/ट्रस्ट/सोसाइटी आदि जिन्होंने पहले दौर के दौरान पहले ही पंजीकरण और आवेदन कर दिया है, उन्हें नए सिरे से आवेदन करने या फिर से पंजीकरण शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। बहरहाल, ऐसे पहले से पंजीकृत आवेदक क्यूआर, नियमों और विनियमों और एमओए का अध्ययन कर सकते हैं और वेब पोर्टल पर अपने डेटा को नए इनपुट के साथ, यदि कोई हो, अपडेट कर सकते हैं।

अनुलग्नक

अनुमोदित नये सैनिक स्कूलों की सूची

क्रं.सं.राज्यजिलास्कूल का नाम
1आंध्र प्रदेशवाई. एस. आर. कडपापूजा इंटरनेशनल स्कूल
2अरुणाचल प्रदेशतवांगतवांग पब्लिक स्कूल
3असमकछारमाध्यमिक शिक्षा महानिदेशालय असम
4बिहारसमस्तीपुरसुंदरीदेवी सरस्वती विद्या मंदिर
5छत्तीसगढ़रायपुरएन एच गोयल वर्ल्ड स्कूल
6दादर एवं नगर हवेलीदादर एवं नगर हवेलीविद्या भारती गुजरात प्रदेश (नेताजी सुभाष चन्द्र बोस सैन्य अकादमी)
7गुजरातजूनागढ़ब्रह्मचारी श्री भगवतीनंदजी शिक्षा ट्रस्ट (श्री ब्रह्मानंद विद्या मंदिर)
8हरियाणाफतेहाबादओम विष्णु एजुकेशन सोसायटी (रॉयल इंटरनेशनल रेजिडेंशियल स्कूल)
9हिमाचल प्रदेशसोलनराज लक्ष्मी समविद गुरूकुलम
10कर्नाटकबेलागवीसंगोल्ली रायन्ना सैनिक स्कूल
11केरलएर्नाकुलमश्री शारदा विद्यालय
12मध्यप्रदेशमंदसौरसरस्वती विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय
13महाराष्ट्रअहमदनगरपीडी डॉ. वी विखे पाटिल सैनिक स्कूल
14नागालैंडदीमापुरलिविंगस्टोन फाउंडेशन इंटरनेशनल
15ओडिशाधेनकानलसंस्कार पब्लिक स्कूल (अबाकाश फाउंडेशन)
16पंजाबपटियालादयानंद पब्लिक स्कूल सिल्वर सिटी नाभा
17राजस्थानगंगानगरभारती चैरिटेबल ट्रस्ट (ब्लूमिंग डेल्स इंटरनेशनल स्कूल)
18तमिलनाडुटूटिकोरिनद विकासा स्कूल
19तेलंगानाकरीमनगरतेलंगाना सोशल वेलफेयर रेजिडेंशियल सैनिक स्कूल
20उत्तर प्रदेशइटावाविकास लोक सेवा समिति (माउंट लिट्टेरा जी स्कूल)
21उत्तराखण्डदेहरादूनजीआरडी वर्ल्ड स्कूल भाउवाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.