17 वें भारत-आसियान आभासी शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री का सम्बोधन

Prime Minister's remarks at 17th India-ASEAN Virtual Summit

 12 NOV 2020

नमस्ते,
Excellency, प्रधान मंत्री नुयेन सुवन फुक,

Excellencies,

हर साल की तरह हम हाथ-से-हाथ जोड़ कर अपनी पारम्परिक Family Photo नहीं ले पाए! किन्तु फिर भी मुझे ख़ुशी है कि इस virtual माध्यम से हम मिल रहे हैं।

सबसे पहले मैं आसियान के वर्तमान Chair Vietnam, और आसियान में भारत के वर्तमान country coordinator Thailand की प्रशंसा करना चाहता हूँ।COVID की दिक्कतों के बावजूद आपने अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाया है।

Excellencies,

भारत और आसियान की Strategic Partnership हमारी साझा ऐतिहासिक, भौगोलिक और सांस्कृतिक धरोहर पर आधारित है।आसियान समूह शुरू से हमारी Act East Policy का मूल केंद्र रहा है।

भारत के “Indo Pacific Oceans Initiative” और आसियान के “Outlook on Indo Pacific” के बीच कई समानताएं हैं।हम मानते हैं कि “Security and Growth for All in the Region” के लिए एक “Cohesive and Responsive आसियान” आवश्यक है।

भारत और आसियान के बीच हर प्रकार की Connectivity को बढ़ाना – physical, आर्थिक, सामाजिक, डिजिटल, financial, maritime – हमारे लिए एक प्रमुख प्राथमिकता है।

पिछले कुछ सालों में हम इन सभी क्षेत्रों में क़रीब आते गए हैं।मुझे विश्वास है कि आज की हमारी बातचीत, चाहे ये virtual माध्यम से ही हो रही हो, हमारे बीच की दूरी को और कम करने के लिए लाभदायक होगी।

मैं एक बार फिर आप सभी को आज की वार्ता के लिए धन्यवाद देता हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.